लाइव पोस्ट
चीन में शुरू हुआ दुनिया का सबसे ऊंचा पुल, 14.40 करोड़ डॉलर से बना
नोटबंदी को लेकर तृणमूल कांग्रेस का पीएम मोदी पर कटाक्ष- 'उम्मीद है कल बड़ी घोषणा करेंगे'
सीतापुर में यात्रियों से भरी बस नदी में पलटी, बचाव कार्य जारी
झारखंड में कोयला खदान के अंदर फंसे मजदूर, 10 शव निकाले गए
दिल्ली हाई कोर्ट ने शादियों के लिए बैंक खाते से 2.5 लाख रुपए निकालने के खिलाफ याचिका खारिज़ की
संसद के दोनों सदनों में नोटबंदी के खिलाफ विपक्षी दलों का हंगामा जारी
घोषित काले धन पर लगेगा 50% टैक्स, लोकसभा ने आयकर अधिनियम में संशोधन पास किया

एयरटेल डिजिटल ने तिमाही में 5.30 लाख सब्सक्राइबर जोड़े, परिचालन लाभ 247 करोड़

मुंबई: एयरटेल डिजिटल टीवी के लिए चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही सब्सक्राइबरों के विकास के मामले में जबरदस्त रही है। भारती एयरटेल की इस डीटीएच शाखा से इस दौरान शुद्ध रूप से 5.30 लाख सब्सक्राइबर जोड़े हैं। यह पिछली 18 तिमाहियों की सबसे बड़ी संख्या है।

उसकी प्रति यूज़र औसत आय (एआरपीयू) इस दौरान एचडी की पैठ बढ़ने और ऊपर के पैक के ज्यादा बिकने से थोड़ा बढ़कर 229 रुपए प्रति माह पर पहुंच गई।

दिसंबर 2015 की तिमाही में एयरटेल डिजिटल टीवी का परिचालन लाभ (ब्याज, टैक्स, मूल्यह्रास व अमोर्टिजेशन से पूर्व लाभ) साल भर पहले के 170.7 करोड़ रुपए से 45 प्रतिशत बढ़कर 247.4 करोड़ रुपए पर जा पहुंचा। वहीं ठीक पिछली तिमाही के 243.3 करोड़ रुपए के परिचालन लाभ से यह 5.59 प्रतिशत अधिक है।

आलोच्य तिमाही में उसका परिचालन लाभ मार्जिन 33.3 प्रतिशत रहा है, जबकि ठीक पिछली तिमाही में यह 33.1 प्रतिशत और साल भर पहले की तिमाही में 27.4 प्रतिशत रहा था। अगर हम डीटीएच ऑपरेटर के ब्याज व टैक्स से पूर्व लाभ की बात करें तो वो सितंबर 2015 की तिमाही के 17 करोड़ रुपए से 216 प्रतिशत उछलकर दिसंबर 2015 की तिमाही में 53.8 करोड़ रुपए पर पहुंच गया है। साल भर पहले की समान तिमाही में उसे ब्याज व टैक्स से पहले लाभ के बजाय 36 करोड़ रुपए का घाटा हुआ था।

Airtel-Digital-TV-Services-jan16

आय की स्थिति

एयरटेल डिजिटल टीवी की आय दिसंबर 2015 की तिमाही में सितंबर 2015 तिमाही के 706.8 करोड़ रुपए से 5 प्रतिशत बढ़कर 742.2 करोड़ रुपए हो गई। साल भर पहले की समान अवधि की तुलना में उसकी आय 19 प्रतिशत ज्यादा है। उस दौरान उसकी आय 623.4 करोड़ रुपए रही थी।

एआरपीयू

डीटीएच ऑपरेटर की एआरपीयू में तिमाही आधार पर 2 प्रतिशत की सामान्य वृद्धि हुई है। चालू वित्त वर्ष 2015-16 की दूसरी तिमाही में यह 224 रुपए रही थी, जबकि तीसरी तिमाही में यह 229 रुपए हो गई। साल भर पहले की समान अवधि में उसकी एआरपीयू 214 रुपए थी। इस तरह उसकी बनिस्बत इसमें 7 प्रतिशत वृद्धि हुई है।

4.5-Digital-TV-Services-jan16

सब्सक्राइबरों को जोड़ना

एयरटेल डिजिटल टीवी ने दिसंबर 2015 की तिमाही में पिछली 18 तिमाहियों के सबसे ज्यादा 5.30 लाख सब्क्राइबर जोड़े हैं। यह ठीक पिछली तिमाही से 223 प्रतिशत और साल भर पहले की तिमाही से 96 प्रतिशत ज्यादा है। 30 सितंबर 2015 को समाप्त तिमाही में उसने शुद्ध रूप से 1.64 लाख सब्सक्राइबर जोड़े थे, जबकि 31 दिसंबर 2014 को समाप्त तिमाही में यह संख्या 2.70 लाख रही थी।

अब 31 दिसंबर 2015 तक की अद्यतन स्थिति के अनुसार एयरटेल डिजिटल टीवी का कुल सब्सक्राइबर आधार 1.11 करोड़ का है। यह साल भर पहले की तुलना में 13.2 प्रतिशत बड़ा है। ठीक पिछली तिमाही में उसका कुल सब्सक्राइबर आधार 1.05 करोड़ का था।

चर्न की दर

आलोच्य तिमाही में सब्सक्राइबरों के इधर-उधर जाने को बताने वाली मासिक चर्न की दर घटकर 0.7 प्रतिशत पर आ गई। ठीक पिछली तिमाही में यह दर 1.3 प्रतिशत और साल भर पहले 1 प्रतिशत रही थी।

पूंजीगत खर्च

वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में एयरटेल डिजिटल टीवी ने अपना पूंजीगत खर्च ठीक पिछली तिमाही के 250.1 करोड़ रुपए से 37 प्रतिशत बढ़ाकर 342.2 करोड़ रुपए कर दिया। पिछले वित्त वर्ष 2014-15 की तीसरी तिमाही में उसका पूंजीगत खर्च 163 करोड़ रुपए रहा था।

डीटीएच ऑपरेटर ने तिमाही के दौरान 94.8 करोड़ रुपए का ज्यादा कैश लगाया जिसकी प्रमुख वजह त्योहारी सीज़न में अधिक ग्राहक जोड़ना और कंडीशनल एक्सेस सिस्टम (कैस) के लिए अधिक मार्केट स्टॉक रखना है। ठीक पिछली तिमाही में उसने 15.8 करोड़ रुपए का कैश लगाया था, जबकि साल भर पहले की दिसंबर तिमाही में जाने के बजाय उसके पास 7.7 करोड़ रुपए का कैश आया था।

अब तक का कुल निवेश

भारती एयरटेल 31 दिसंबर 2015 की तिमाही के अंत तक अपने डीटीएच बिजनेस में कुल 6177 करोड़ रुपए का निवेश कर चुकी है। 30 सितंबर 2015 तक डीटीएच बिजनेस में उसका कुल निवेश 5865.3 करोड़ रुपए का रहा था।

डीटीएच ऑपरेटर ने दिसंबर तिमाही के दौरान अपना पहला 4के अल्ट्रा एचडी (यूएचडी) चैनल लॉन्च किया। वो इस समय 486 चैनल दिखा रहा है। इसमें 38 एचडी चैनल, चार अंतरराष्ट्रीय चैनल और चार इंटरैक्टिव सेवाएं शामिल हैं। कंपनी का डिजिटल टीवी कामकाज़ 31 दिसंबर 2015 तक देश के 639 ज़िलों तक पहुंच चुका है।