लाइव पोस्ट
चीन में शुरू हुआ दुनिया का सबसे ऊंचा पुल, 14.40 करोड़ डॉलर से बना
नोटबंदी को लेकर तृणमूल कांग्रेस का पीएम मोदी पर कटाक्ष- 'उम्मीद है कल बड़ी घोषणा करेंगे'
सीतापुर में यात्रियों से भरी बस नदी में पलटी, बचाव कार्य जारी
झारखंड में कोयला खदान के अंदर फंसे मजदूर, 10 शव निकाले गए
दिल्ली हाई कोर्ट ने शादियों के लिए बैंक खाते से 2.5 लाख रुपए निकालने के खिलाफ याचिका खारिज़ की
संसद के दोनों सदनों में नोटबंदी के खिलाफ विपक्षी दलों का हंगामा जारी
घोषित काले धन पर लगेगा 50% टैक्स, लोकसभा ने आयकर अधिनियम में संशोधन पास किया

एयरटेल डिजिटल टीवी को वित्त वर्ष 2015-16 में ब्याज व टैक्स पूर्व लाभ, जोड़े चौथी तिमाही में रिकॉर्ड ग्राहक

मुंबई: भारती एयरटेल की डीटीएच इकाई, एयरटेल डिजिटल टीवी ने दो बड़ी उपलब्धियां हासिल की हैं। एक तो कंपनी पूरे वित्त वर्ष 2015-16 में ब्याज व टैक्स-पूर्व लाभ (ईबीआईटी) में आ गई है। दूसरे, उसने 31 मार्च 2016 को समाप्त तिमाही में पिछली 20 तिमाहियों के सबसे ज्यादा शुद्ध सब्सक्राइबर जोड़े हैं।

वित्त वर्ष 2015-16 में एयरटेल डिजिटल टीवी का परिचालन लाभ (ब्याज, टैक्स, मूल्यह्रास व अमोर्टिजेशन से पूर्व लाभ) साल भर पहले के 675.2 करोड़ रुपए से 48 प्रतिशत बढ़कर 997.6 करोड़ रुपए पर पहुंच गया है। वहीं, उसका परिचालन लाभ मार्जिन इस बार 34.2 प्रतिशत रहा है, जबकि इससे पिछले वित्त वर्ष में यह 27.3 प्रतिशत रहा था।

Airtel-Digital-TVअगर मूल्यह्रास व अमोर्टिजेशन को हटा दें तो डीटीएच ऑपरेटर को पूरे वित्त वर्ष में 184.3 करोड़ रुपए का ब्याज व टैक्स पूर्व लाभ हुआ है, जबकि पिछले वित्त वर्ष में उसे इस मायने में 158.1 करोड़ रुपए का घाटा लगा था।

इस बीच कंपनी की आय साल भर पहले के 2475.9 करोड़ रुपए से 18 प्रतिशत बढ़कर 2917.9 करोड़ रुपए हो गई है।

एयरटेल डिजिटल टीवी ने वित्त वर्ष 2015-16 में शुरू रूप से 16.5 लाख सब्सक्राइबर जोड़े हैं। इससे उसका कुल सब्सक्राइबर आधार 1.172 करोड़ का हो गया है। पिछले वित्त वर्ष में उसने शुद्ध रूप से 10.6 लाख सब्सक्राइबर जोड़े थे और उसका सब्सक्राइबर आधार 1.007 करोड़ का था।

वित्त वर्ष के दौरान कंपनी का पूंजी खर्च साल भर पहले के 784.2 करोड़ रुपए से 40 प्रतिशत बढ़कर 1098 करोड़ रुपए हो गया। अब तक कंपनी अपने डीचीएच बिजनेस पर कुल मिलाकर 6490.6 करोड़ रुपए लगा चुकी है। इस पिछले साल तक के 5410.9 करोड़ रुपए के निवेश की अपेक्षा 20 प्रतिशत अधिक है।

एचडी सेट-टॉप बॉक्स (एसटीबी) की सहनीय दाम में उपलब्धता, एचडी चैनलों की बढ़ती मांग और ब्रिकी के बढ़े हुए प्रयासों से कंपनी की प्रति यूजर औसत आय (एआरपीयू) वित्त वर्ष 2015-16 में साल भर पहले की तुलना में 19 रुपए बढ़कर 226 रुपए हो गई है। कंपनी ने साल के दौरान अपना पहला देश में निर्मित एसटीबी भी लॉन्च किया।

digital-TV-services-28-april

चौथी तिमाही का प्रदर्शन

वित्त वर्ष 2015-16 की आखिरी तिमाही में एयरटेल डिजिटल टीवी की आय और परिचालन लाभ दोनों में इजाफा हुआ है।

एयरटेल डिजिटल टीवी ने 31 मार्च 2016 को समाप्त तिमाही में शुद्ध स्तर पर 6.19 लाख सब्सक्राइबर जोड़े हैं। यह पिछली 20 तिमाही की सबसे बड़ी संख्या है।

digital-TV-services1-28-april

यह पिछली तिमाही की तुलना में बहुत बड़ा सुधार है जब उसने शुद्ध स्तर पर 5.30 लाख सब्सक्राइबर जोड़े थे। वैसे, तब यह संख्या पिछली 18 तिमाहियों की सबसे बड़ी संख्या थी।

चौथी तिमाही में कंपनी की परिचालन लाभ उछलकर 275 करोड़ रुपए पर पहुंच गया। तीसरी तिमाही में यह 247.4 करोड़ रुपए रहा था, जबकि पिछले वित्त वर्ष 2014-15 की चौथी तिमाही में 207.8 करोड़ रुपए था।

इस बार उसका परिचालन लाभ मार्जिन ठीक पिछली तिमाही के 33.3 प्रतिशत से सुधरकर 35.1 प्रतिशत हो गया। पिछले वित्त वर्ष की चौथी तिमाही में उसका यह मार्जिन 32.7 प्रतिशत रहा था।

परिचालन लाभ बढ़ने स कंपनी का ब्याज व टैक्स पूर्व लाभ चौथी तिमाही में 72 करोड़ रुपए हो गया, जबकि साल भर पहले की समान अवधि में यह 8 करोड़ रुपए रहा था। तीसरी तिमाही में उसका यह लाभ 53.8 करोड़ रुपए रहा था।

कंपनी की आय चौथी तिमाही में ठीक पिछली तिमाही के 742.2 करोड़ रुपए से बढ़कर 784 करोड़ रुपए  हो गया। पिछले वित्त वर्ष की चौथी तिमाही में उसकी आय 634.8 करोड़ रुपए रही थी।

इस बार उसकी एआरपीयू 229 रुपए पर अटका रही है। पिछले वित्त वर्ष 2014-15 की मार्च तिमाही में उसकी एआरपीयू 214 रुपए रही थी।

मार्च 2016 की तिमाही में मासिक चर्न की दर 0.8 प्रतिशत दर्ज की गई है, जबकि ठीक पिछली तिमाही में यह 0.7 प्रतिशत रही थी।

उक्त तिमाही में कंपनी ने मुनाफा बढ़ाने के लिए 19.3 करोड़ रुपए कैश लगाए। इसकी मुख्य वजह सब्सक्राइबर जोड़ने पर किया गया अतिरिक्त पूंजी खर्च है। वैसे, पिछली तिमाही में उसने 94.8 करोड़ रुपए का कैश लगाया था।

कंपनी ने चौथी तिमाही में कुल 294.3 करोड़ रुपए का पूंजी व्यय किया है, जबकि पिछली तिमाही में यह 342.2 करोड़ रुपए रहा था। पिछले वित्त वर्ष की चौथी तिमाही में कंपनी का पूंजी व्यय 133 करोड़ रुपए रहा था।

Digital-TV-Services-28-April-aritel

एयरटेल डिजिटव टीवी इस समय 504 चैनल दिखा रहा है। इसमें 42 एचडी चैनल, चार अंतरराष्ट्रीय चैनल और पांच इंटरैक्टिव सेवाएं शामिल हैं। कंपनी का डिजिटल टीवी कामकाज़ 31 मार्च 2016 तक देश के 639 ज़िलों तक फैल चुका है।