लाइव पोस्ट
चीन में शुरू हुआ दुनिया का सबसे ऊंचा पुल, 14.40 करोड़ डॉलर से बना
नोटबंदी को लेकर तृणमूल कांग्रेस का पीएम मोदी पर कटाक्ष- 'उम्मीद है कल बड़ी घोषणा करेंगे'
सीतापुर में यात्रियों से भरी बस नदी में पलटी, बचाव कार्य जारी
झारखंड में कोयला खदान के अंदर फंसे मजदूर, 10 शव निकाले गए
दिल्ली हाई कोर्ट ने शादियों के लिए बैंक खाते से 2.5 लाख रुपए निकालने के खिलाफ याचिका खारिज़ की
संसद के दोनों सदनों में नोटबंदी के खिलाफ विपक्षी दलों का हंगामा जारी
घोषित काले धन पर लगेगा 50% टैक्स, लोकसभा ने आयकर अधिनियम में संशोधन पास किया

सूचना व प्रसारण मंत्रालय ने पॉज़िटिव रेडियो का एफएम लाइसेंस निरस्त किया

मुंबई: सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने पॉज़िटिव रेडियो का अगरतला व ईटानगर में निजी एफएम रेडियो ब्रॉडाकास्टिंग चैनल स्थापित करने, बनाए रखने और संचालित करने का लाइसेंस निरस्त कर दिया है।

लाइसेंस रद्द करने का यह आदेश 25 अक्टूबर से प्रभावी हो गया है।

यह लाइसेंस इसलिए रद्द किया गया है क्योंकि पॉज़िटिव रेडियो ने मंत्रालय का अनुमोदन लिए बिना छह महीने से ज्यादा वक्त से चैनलों का ट्रांसमिशन बंद कर दिया है। पाया गया कि अगरतला और ईटानगर स्टेशनों का प्रसारण 26 अप्रैल 2015 से रोक दिया गया है। यह अवधि छह महीने से ज्यादा की बनती है।

एफएम रेडियो के दूसरे चरण के दिशानिर्देशों में प्रावधान है कि अगर किसी चैनल का ट्रांसमिशन किसी भी वजह से छह महीने से ज्यादा अवधि के लिए बंद कर दिया जाता है तो मंत्रालय उसे दी गई अनुमति रद्द कर सकता है। अब लाइसेंस रद्द कर दिए जाने से पॉज़िटिव रेडियो प्राइवेट लिमिटेड को एक बार की नॉन-रिफंडेबल एंट्री फीस (ओटीईएफ) से हाथ धोना पड़ेगा।

मंत्रालय ने इन चैनलों की स्थिति की जानकारी निजी एफएम रेडियो ट्रांसमिशन की निगरानी के लिए अधिकृत एजेंसी और सिस्टम की इंटीग्रेटर, ब्रॉडकास्टिंग इंजीनियरिंग कंसल्टेंट्स इंडिया लिमिटेड (बेसिल) से मांगी थी। बेसिल ने उसे बताया कि पॉज़िटिव रेडियो ने अगरतला और ईटानगर में जून 2015 में ही अपनी ब्रॉडकास्टिंग रोक दी थी।

जब मंत्रालय ने अनुमतिधारक से इसकी पुष्टि करनी चाही तो उन्होंने भी सूचित किया कि इन चैनलों का प्रसारण अपरिहार्य परिस्थितियों के चलते रोक दिया गया है। मंत्रालय अंतिम मौका देते हुए पॉज़िटिव रेडियो को कारण बताओ नोटिस जारी करके पूछा कि क्यों न उसे दूसरे चरण के तहत एफएम रेडियो के प्रसारण की दी गई इजाज़त निरस्त कर दी जाए। लेकिन नोटिस का निर्धारित समय बीत जाने के बावजूद पॉज़िटिव रेडियो की तरफ से मंत्रालय को कोई जवाब नहीं मिला।