लाइव पोस्ट
चीन में शुरू हुआ दुनिया का सबसे ऊंचा पुल, 14.40 करोड़ डॉलर से बना
नोटबंदी को लेकर तृणमूल कांग्रेस का पीएम मोदी पर कटाक्ष- 'उम्मीद है कल बड़ी घोषणा करेंगे'
सीतापुर में यात्रियों से भरी बस नदी में पलटी, बचाव कार्य जारी
झारखंड में कोयला खदान के अंदर फंसे मजदूर, 10 शव निकाले गए
दिल्ली हाई कोर्ट ने शादियों के लिए बैंक खाते से 2.5 लाख रुपए निकालने के खिलाफ याचिका खारिज़ की
संसद के दोनों सदनों में नोटबंदी के खिलाफ विपक्षी दलों का हंगामा जारी
घोषित काले धन पर लगेगा 50% टैक्स, लोकसभा ने आयकर अधिनियम में संशोधन पास किया

प्रसारण मंत्रालय ने एक टीवी चैनल को लाइसेंस दिया, ग्यारह का लाइसेंस रद्द किया

मुंबई: देश में टीवी लाइसेंस दिए जाने की प्रक्रिया एकदम ठहर-सी गई है। सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने  सितंबर में केवल एक टेलिविजन चैनल को लाइसेंस दिया है।

प्रसारण मंत्रालय ने अपलिंकिंग का यह लाइसेंस गैर-न्यूज़ श्रेणी में स्काई स्टार एंटरटेनमेंट को स्काई स्टार नाम के चैनल के लिए दिया है। कंपनी को यह लाइसेंस अंग्रेज़ी, हिंदी और भारत की सभी अनुसूचित भाषाओं के लिए मिला है।

मंत्रालय ने इसके साथ ही 11 टीवी चैनलों के डाउनलिंकिंग लाइसेंस रद्द कर दिए हैं। इनमें से दस लाइसेंस फॉक्स चैनेल्स इंडिया और एनजीसी नेटवर्क इंडिया के हैं, जबकि एक डेस्टार टेलिविज़न नेटवर्क इंडिया को डेस्टार टेलिविज़न नेटवर्क के नाम से मिला था।

Master_List_of_Permitted_Private_Satellite_TV_Channels_cancelled_as_on_30.09.2016-1

डेस्टार टेलिविज़न नेटवर्क दुनिया भर में सभी मीडिया फॉर्मैटों के ज़रिए ईसाई धर्म का प्रचार-प्रसार करने के प्रति समर्पित एक अमेरिकी नेटवर्क है।

फॉक्स चैनेल्स इंडिया और एनजीसी नेटवर्क इंडिया, ट्वेंटीफर्स्ट सेंचुरी फॉक्स द्वारा प्रवर्तित स्टार इंडिया नेटवर्क की सहयोगी कंपनियां हैं।

फॉक्स चैनेल्स इंडिया और एनजीसी नेटवर्क ने अपने डाउनलिंकिंग लाइसेंस सूचना व प्रसारण मंत्रालय को वापस कर दिए हैं क्योंकि एनजीसी नेटवर्क इंडिया को मंत्रालय से पिछले साल नए अपलिंकिंग लाइसेंस मिल गए हैं।

कंपनी को नौ अपलिंकिंग लाइसेंस मिल चुके हैं। उसे ये लाइसेंस नेशनल ज्योग्राफिक, फॉक्स लाइफ, फॉक्स लाइफ एचडी, बेबी टीवी एचडी, नैट जियो वाइल्ड, नैट जियो वाइल्ड एचडी, नैट जियो प्यूपल एचडी, नैट जियो म्यूज़िक एचडी और नेशनल ज्योग्राफिक के लिए मिले हैं।

इस तरह फॉक्स के इन्फोटेनमेंट चैनलों को एनजीसी नेटवर्क के तहत समेकित कर दिया गया है। इन चैनलों को पहले हांगकांग से अपलिंक किया जा रहा था।

पहले ये तमाम चैनल फॉक्स चैनल्स इंडिया और एनजीसी नेटवर्क इंडिया में बंटे हुए थे।  बेबी टीवी, नैट जियो वाइल्ड, नैट जियो म्यूज़िक, नेशनल ज्योग्राफिक एचडी, नैट जियो प्यूपल, नैट जियो वाइल्ड एचडी और नैट जियो प्यूपल एचडी के डाउनलिंकिंग लाइसेंस फॉक्स चैनल्स इंडिया को मिले हुए थे। वहीं, नेशनल ज्योग्राफिक, फॉक्स लाइफ और फॉक्स लाइफ एचडी के तीन डाउनलिंकिंग लाइसेंस एनजीसी नेटवर्क इंडिया के पास थे।

30 सितंबर 2016 तक सरकार ने 1042 चैनलों को प्रसारण की अनुमति दे रखी है। इनमें से अब तक 161 चैनलों को मिली अनुमति रद्द कर दी गई है। इसके बाद वैध अनुमति वाले कुल निजी सैटेलाइट टीवी चैनलों की संख्या 881 रह गई है। इसमें से 399 न्यूज़ व करेंट अफेयर्स के चैनल हैं, जबकि बाकी 482 इनसे भिन्न विषयों के चैनल हैं।

सूचना व प्रसारण मंत्रालय ने भारत से अपलिंक करने के साथ ही डाउनलिंक करने के लिए 772 चैनलों को इजाज़त दे रखी है। वहीं, 22 टीवी चैनलों को भारत से अपलिंक करने, लेकिन डाउनलिंक नहीं करने की अनुमति दी गई है। 87 टीवी चैनलों को भारत में केवल डाउनलिंक करने की अनुमति दी है।