लाइव पोस्ट
चीन में शुरू हुआ दुनिया का सबसे ऊंचा पुल, 14.40 करोड़ डॉलर से बना
नोटबंदी को लेकर तृणमूल कांग्रेस का पीएम मोदी पर कटाक्ष- 'उम्मीद है कल बड़ी घोषणा करेंगे'
सीतापुर में यात्रियों से भरी बस नदी में पलटी, बचाव कार्य जारी
झारखंड में कोयला खदान के अंदर फंसे मजदूर, 10 शव निकाले गए
दिल्ली हाई कोर्ट ने शादियों के लिए बैंक खाते से 2.5 लाख रुपए निकालने के खिलाफ याचिका खारिज़ की
संसद के दोनों सदनों में नोटबंदी के खिलाफ विपक्षी दलों का हंगामा जारी
घोषित काले धन पर लगेगा 50% टैक्स, लोकसभा ने आयकर अधिनियम में संशोधन पास किया
Tags : %E0%A4%86%E0%A4%88%E0%A4%AA%E0%A5%80%E0%A4%9C%E0%A5%80-%E0%A4%AE%E0%A5%80%E0%A4%A1%E0%A4%BF%E0%A4%AF%E0%A4%BE%E0%A4%AC%E0%A5%8D%E0%A4%B0%E0%A4%BE%E0%A4%82%E0%A4%A1%E0%A5%8D%E0%A4%B8

नोटबंदी के बीच बढ़ रहा है विज्ञापन को रोकने, टालने या घटाने का डर

विक्रम सखूजा का कहना है, “नवंबर पर असर पड़ा है। देखना है कि दिसंबर कैसा जाता है। ब्रॉडकास्टरों के साथ मिलकर राह निकाली जा रही है।” शशि सिन्हा कहते हैं कि कुछ विज्ञापनदाता 30-40 दिन इंतज़ार कर सकते हैं। रोहित गुप्ता व आशीष सहगत मानते हैं कि माहौल में अनिश्चितता छा गई है।

सोनी ने नौ सालों में कैसे बराबर उठाया आईपीएल की आय का स्तर

सोनी की सबसे मूल्यवान संपत्ति, इंडियन प्रीमियर लीग ने अब तक के आठ संस्करणों से लगभग 5650 करोड़ रुपए कमाए हैं और बाज़ार के अनुमानों के मुताबिक नौवें संस्करण से वो 1100 करोड़ रुपसे से ज्यादा कमा सकती है। सोनी ने आखिर साल-दर-साल कैसे उठाया आईपीएल की आय का स्तर?

‘ब्रॉडकास्टरों को विज्ञापनदाता खींचने के लिए ग्रामीण कंटेंट पर ध्यान देना होगा’

शशि सिन्हा, विक्रम सखूजा और अनुप्रिया आचार्य ने विज्ञापन के परिदृश्य पर अपनी राय साझा की है। एक राय यह है कि ब्रॉडकास्टरों को ऐसा कंटेंट बनाने की ज़रूरत है जो ग्रामीण बाज़ार को अपील करे। इससे विज्ञापन देनेवाले आकर्षित होंगे और विज्ञापन का पूरा फलक बढ़ाने में मदद मिलेगी।