लाइव पोस्ट
Tags : %E0%A4%95%E0%A5%87%E0%A4%AC%E0%A4%B2-%E0%A4%9F%E0%A5%80%E0%A4%B5%E0%A5%80-%E0%A4%AC%E0%A4%BF%E0%A4%9C%E0%A4%A8%E0%A5%87%E0%A4%B8

हैथवे की ब्रॉडबैंड आय ने सितंबर तिमाही में केबल टीवी सब्सक्रिप्शन आय को मात दी

हैथवे की ब्रॉडबैंड आय पहली बार केबल टीवी सब्सक्रिप्शन आय से ज्यादा हो गई है। दूसरी तिमाही में ब्रॉडबैंड आय 120.3 करोड़ रुपए और केबल टीवी सब्सक्रिप्शन आय 110.4 करोड़ रुपए रही है।

एट्रिया बनेगी तीसरी बड़ी वायर्ड ब्रॉडबैंड खिलाड़ी, एमटीएनएल से फासला और घटा

पीई फर्मों आईवीएफए और टीए एसोसिएट्स के निवेश से चल रही कंपनी, एट्रिया सरकारी कंपनी एमटीएनएल को पीछे छोड़कर देश की तीसरे सबसे बड़ी वायर्ड ब्रॉडबैंड सेवा प्रदाता बनने की दौड़ शुरू कर चुकी है। 31 जुलाई तक एट्रिया के वायर्ड ब्रॉडबैंड सब्सक्राइबर 10.5 लाख और एमटीएनएल के 10.8 लाख रहे हैं।

हैथवे केबल का समेकित प्रदर्शन कैसा रहा वित्त वर्ष 2015-16 में

हैथवे केबल एंड डेटाकॉम ने वित्त वर्ष 2015-16 के दौरान समेकित स्तर पर अपनी ब्रॉडबैंड आय में मजबूत वृद्धि हासिल की है, जबकि डैस के तीसरे चरण के अमल में देरी और एलसीओ से सब्सक्रिप्शन आय का हिस्सा खींचने में जारी चुनौती के कारण उसके केबल टीवी बिजनेस पर प्रतिकूल असर पड़ा है।

दस लाख ब्रॉडबैंड ग्राहकों के बाद एट्रिया कन्वर्जेंस की दौड़ एमटीएनएल से आगे जाने की

दस लाख से ज्यादा ब्रॉडबैंड सब्सक्राइबर हासिल करने के बाद निजी इक्विटी फर्मों के दम पर बढ़ती कंपनी एट्रिया की अगली मंजिल एमटीएनएल को पीछे छोड़ने और देश की तीसरी सबसे बड़ी वायर्ड ब्रॉडबैंड सेवा प्रदाता बन जाने की है। कंपनी के सीईओ बाला मल्लाडी बता रहे हैं आगे की योजना।

सिटी केबल और डेन नेटवर्क्स के बीच विलय की संभावना पर हो रही है बातचीत

सिटी केबल नेटवर्क इस समय डेन नेटवर्क्स का अधिग्रहण करने की संभावनाएं तलाशने में जुटा हुआ है। पूरे विकासक्रम से जुड़े एक करीबी सूत्र ने बताया कि दोनों कंपनियों के बीच विलय व अधिग्रहण के हर कोण पर बातचीत की जा रही है।

डेन ने तीसरी तिमाही में 9.45 लाख डिजिटल सब्सक्राइबर जोड़े, प्लेसमेंट आय रही ठहरी

कंपनी की केबल एआरपीयू प्रति एसटीबी 3.9% बढ़कर 80 रुपए हो गई है। इस दौरान उसकी प्लेसमेंट आय ठीक पिछली तिमाही की तुलना में 111 करोड़ रुपए पर कमोबेश ठहरी रही।

डेन नेटवर्क्स के केबल टीवी बिजनेस को तीसरी तिमाही में हुआ परिचालन लाभ

डेन के केबल टीवी बिजनेस को दिसंबर तिमाही में 32.64 करोड़ रुपए का परिचालन लाभ हुआ है, जबकि सितंबर तिमाही में उसे 32.11 करोड़ रुपए का परिचालन घाटा हुआ था।

एट्रिया कन्वर्जेंस एसीएन केबल में मालिकाना बढ़ाकर 74% करेगी

प्राइवेट इक्विटी फर्मों का साथ पा चुकी कंपनी, एट्रिया कन्वर्जेंस अब अपना केबल बिजनेस बढ़ाने में जुट गई है। उसने एसीएन केबल में 25% अतिरिक्त इक्विटी हासिल करने का फैसला किया। इसके लिए वो एफआईपीबी में आवेदन डाल चुकी है। सौदे में एसीएन केबल का मूल्य 50 करोड़ रुपए आंका गया है।

एट्रिया अपना स्तर उठाने को तैयार है, कहा आईवीएफए के पार्टनर प्रमोद काबरा ने

प्राइवेट इक्विटी फर्म टीए एसोसिएट्स को साथ लाने के बाद इंडिया वैल्यू फंड, एट्रिया के बहुमत पार्टनर के रूप में कंपनी के अंदरूनी विकास के साथ-साथ बाहरी अधिग्रहण पर भी गौर कर रहा है।

पीई फर्म टीए एसोसिएट्स 20 करोड़ डॉलर में एसीटी का 40% मालिकाना खरीदेगी

टीए एसोसिएट्स केबल टीवी व ब्रॉडबैंड सेवा कंपनी एट्रिया कन्वर्जेन्स टेक्नोलॉजीज का 40% मालिकाना 20 करोड़ डॉलर में खरीद रही है। इससे कंपनी का मौजूदा मूल्यांकन 52.6 करोड़ डॉलर निकलता है।