लाइव पोस्ट
Tags : %E0%A4%9A%E0%A5%80%E0%A4%A8

बीबीसी वर्ल्डवाइड ने हांगकांग में अपने चैनल व ब्रांड माई टीवी सुपर पर पेश किए

बीबीसी वर्ल्डवाइड ने हांगकांग में अपने पांच चैनलों और ब्रांडों को लॉन्च करने के लिए टीवीबी के साथ एक करार की घोषणा की है।

अनिल अंबानी की फर्म ने आईएम ग्लोबल बेच डाली टैंग मीडिया को, जुड़ जाएगी नए टीवी उद्यम से

आईएम ग्लोबल और टीएमपी ने चीन के टेन्सेट के साथ नए टीवी प्रोडक्शन उद्यम के लिए साझेदारी की है। रिलायंस एंटरटेनमेंट की इन दोनों संस्थाओं में अल्पमत हिस्सेदारी होगी। इस सौदे से आईएम ग्लोबल पैमाना बढ़ा सकेगा और लायन्सगेट व स्टूडियोकैनल जैसी अन्य बड़ी संस्थाओं जैसा बनने की राह पर चल सकता है।

साल 2022 तक 25.45 अरब डॉलर का हो सकता है एसटीबी का विश्व बाज़ार: रिसर्च रिपो

माना जा रहा है कि टेक्नोलॉज़ी के प्रसार और हाई क्वालिटी की पिक्चर व साउंड की बढ़ती मांग से वैश्विक एसटीबी बाजार के विकास को बढ़ावा मिलेगा।

चीन के बैदू ने अपना विज्ञापन प्लेटफॉर्म भारत में पेश किया

प्रमुख चीनी भाषा के इंटरनेट सर्च प्रदाता बैदू ने भारत में आधिकारिक तौर पर अपने विज्ञापन नेटवर्क ‘ड्यू एड प्लेटफॉर्म’ को पेश करने की घोषणा की है।

कुछ देशों में तेज़ी से बढ़ रहे हैं स्मार्ट टीवी वाले घर

2019 तक, आईएचएस के अनुसार जापान, अमेरिका, ब्रिटेन, फ्रांस और जर्मनी में टीवी वाले परिवारों में से 50 प्रतिशत से अधिक के पास स्मार्ट टीवी होंगे।

नेटफ्लिक्स 500 रुपए के प्लान के साथ उतरा भारत के बाज़ार में

प्रति माह 500 रुपए में कोई यूज़र एक एसडी स्क्रीन का उपयोग कर सकता है; प्रति माह 650 रुपए में एक साथ दो स्क्रीन पर एचडी में कंटेंट देखा जा सकता है। 800 रुपए महीने के प्लान में दर्शक एक साथ चार स्क्रीन पर 4के कंटेंट देख सकते हैं।

डैस का तीसरा चरण आखिरी छोर पर, लेकिन एमएसओ जूझ रहे हैं एसटीबी की कमी से

डैस के तीसरे चरण के शहरों में एनालॉग केबल टीवी के अवसान से चंद दिन पहले भी अधिकांश एमएसओ की शिकायत है कि उन्हें पर्याप्त संख्या में डिजिटल एसटीबी नहीं मिल पा रहे हैं। एसटीबी के उत्पादन में बाधा आ गई है। समस्या चिपसेट और ट्यूनर के साथ है क्योंकि दुनिया में फिलहाल इनकी सप्लाई घट गई है।

अलीबाबा व डिज़्नी लॉन्च कर रहे हैं चीन में ओटीटी सेवा

अलीबाबा ग्रुप और डिज़्नी ने एक ओटीटी सेवा के लिए बहुवर्षीय लाइसेंस समझौते की घोषणा की है जिसमें पहली बार ग्राहकों को प्रोडक्ट व डिजिटल मनोरंजन के साथ जोड़ा जा रहा है।

भारत मीडिया व मनोरंजन कंपनियों के निवेश का चौथा शीर्ष ठिकाना: अर्न्स्ट एंड यंग

वैश्विक मीडिया व मनोरंजन कंपनियों की नज़र में विलय व अधिग्रहण के सौदों के लिए भारत दुनिया का चौथा शीर्ष ठिकाना है। इसके ऊपर चीन, अमेरिका व ब्रिटेन का स्थान है। अर्न्स्ट एंड यंग की 13वीं कैपिटल कॉन्फिडेंस बैरोमीटर रिपोर्ट में यह बात कही गई है।

चीन की कंपनी लेटीवी ने 2016 के शुरू तक भारत में उतरने की योजना बनाई

लेटीवी के नाम से मशहूर चीन की मनोरंजन व ऑनलाइन वीडियो कंपनी लेशी इंटरनेट इन्फॉर्मेशन एंड टेक्नोलॉज़ी अगले साल 2016 की शुरुआत तक भारत में उतरने की योजना बना रही है। वो यहां अपना कंटेंट-आधारित इको यूज़र इंटरफेस भी लाएगी