लाइव पोस्ट
Tags : %E0%A4%9C%E0%A4%BC%E0%A5%80-%E0%A4%AF%E0%A5%82%E0%A4%A8%E0%A4%BF%E0%A4%AE%E0%A5%80%E0%A4%A1%E0%A4%BF%E0%A4%AF%E0%A4%BE

नोटबंदी के बीच बढ़ रहा है विज्ञापन को रोकने, टालने या घटाने का डर

विक्रम सखूजा का कहना है, “नवंबर पर असर पड़ा है। देखना है कि दिसंबर कैसा जाता है। ब्रॉडकास्टरों के साथ मिलकर राह निकाली जा रही है।” शशि सिन्हा कहते हैं कि कुछ विज्ञापनदाता 30-40 दिन इंतज़ार कर सकते हैं। रोहित गुप्ता व आशीष सहगत मानते हैं कि माहौल में अनिश्चितता छा गई है।