लाइव पोस्ट
चीन में शुरू हुआ दुनिया का सबसे ऊंचा पुल, 14.40 करोड़ डॉलर से बना
नोटबंदी को लेकर तृणमूल कांग्रेस का पीएम मोदी पर कटाक्ष- 'उम्मीद है कल बड़ी घोषणा करेंगे'
सीतापुर में यात्रियों से भरी बस नदी में पलटी, बचाव कार्य जारी
झारखंड में कोयला खदान के अंदर फंसे मजदूर, 10 शव निकाले गए
दिल्ली हाई कोर्ट ने शादियों के लिए बैंक खाते से 2.5 लाख रुपए निकालने के खिलाफ याचिका खारिज़ की
संसद के दोनों सदनों में नोटबंदी के खिलाफ विपक्षी दलों का हंगामा जारी
घोषित काले धन पर लगेगा 50% टैक्स, लोकसभा ने आयकर अधिनियम में संशोधन पास किया
Tags : %E0%A4%AE%E0%A5%80%E0%A4%A1%E0%A4%BF%E0%A4%AF%E0%A4%BE-%E0%A4%B5%E0%A4%BF%E0%A4%B6%E0%A5%8D%E0%A4%B2%E0%A5%87%E0%A4%B7%E0%A4%95

ज़ी टीवी प्रोग्रामिंग घंटे बढ़ाएगा, एंड टीवी डटा ब्रेक-इवेन पा लेने की राह पर

ज़ी टीवी का इरादा इस वित्त वर्ष के अंत तक अपने प्रोग्रामिंग घंटों को प्रति सप्ताह 25 घंटों के मौजूदा स्तर से बढ़ाकर लगभग 30 घंटे कर देने का है। वहीं, एंड टीवी पर प्रोग्रामिंग घंटे 21 के वर्तमान स्तर से बढ़ाकर 24 घंटे प्रति सप्ताह करने की योजना है।

आयनॉक्स ने 200 करोड़ रुपए निवेश की योजना बनाई, इस साल जोड़ेगी 60 स्क्रीन

आयनॉक्स लीजर ने चालू वित्त वर्ष के दौरान देश भर में 60 स्क्रीन जोड़ने और 200 करोड़ रुपए का निवेश करने की योजना बनाई है। दीपक अशर का कहना है कि अगर सही मूल्य पर सौदे मिलेंगे तो कंपनी अधिग्रहण का रास्ता भी अपनाएगी।

वीडियोकॉन डी2एच पहली तिमाही में शुद्ध लाभ कमाने की राह पर

डिश टीवी के बाद वीडियोकॉन डी2एच भी वित्त वर्ष 2016-17 की पहली तिमाही में शुद्ध लाभ में आने जा रही है। सब्सक्राइबर आधार 1.2 करोड़ के करीब पहुंचने और एआरपीयू में 5-6% वृद्धि के बाद वीडियोकॉन डी2एच शुद्ध लाभ के स्तर पर मुनाफा हासिल करने की मजबूत स्थिति में आ गई है।

स्टार के साथ हुए कंटेंट करार से हैथवे को एआरपीयू बढ़ाने के लिए नए पैक बनाने में मदद मिली

स्टार इंडिया के साथ हुए कंटेंट करार ने हैथवे को ऊंचे दाम का बेस पैक बनाने में मदद की है। करार के अनुसार एमएसओ अपने बेस पैक में स्टार के दो स्पोर्ट्स चैनल दिखाएगा। क्या इससे एआरपीयू बढ़ पाएगी? क्या एलसीओ इसमें सहयोग देंगे? ब्रॉडकास्टर क्या सोचते हैं?

रियो पर ज़ी का रवैया है थोड़ा हटकर

ज़ी एंटरटेनमेंट ने अपने दरवाजे एकदम खुले रखे हैं। स्टार इंडिया ने तो केवल रियो करार करने का दुस्साहसी कदम उठा लिया है। लेकिन ज़ी ने डिजिटल एड्रेसेबल सिस्टम (डैस) के बाज़ारों में एमएसओ के साथ लागत प्रति सब्सक्राइबर (सीपीएस) या स्थाई फीस के करार करने का विकल्प खुला रखा है।