लाइव पोस्ट
चीन में शुरू हुआ दुनिया का सबसे ऊंचा पुल, 14.40 करोड़ डॉलर से बना
नोटबंदी को लेकर तृणमूल कांग्रेस का पीएम मोदी पर कटाक्ष- 'उम्मीद है कल बड़ी घोषणा करेंगे'
सीतापुर में यात्रियों से भरी बस नदी में पलटी, बचाव कार्य जारी
झारखंड में कोयला खदान के अंदर फंसे मजदूर, 10 शव निकाले गए
दिल्ली हाई कोर्ट ने शादियों के लिए बैंक खाते से 2.5 लाख रुपए निकालने के खिलाफ याचिका खारिज़ की
संसद के दोनों सदनों में नोटबंदी के खिलाफ विपक्षी दलों का हंगामा जारी
घोषित काले धन पर लगेगा 50% टैक्स, लोकसभा ने आयकर अधिनियम में संशोधन पास किया
Tags : %E0%A4%B8%E0%A5%82%E0%A4%9A%E0%A4%A8%E0%A4%BE-%E0%A4%B5-%E0%A4%AA%E0%A5%8D%E0%A4%B0%E0%A4%B8%E0%A4%BE%E0%A4%B0%E0%A4%A3-%E0%A4%AE%E0%A4%82%E0%A4%A4%E0%A5%8D%E0%A4%B0%E0%A4%BE%E0%A4%B2%E0%A4%AF

ट्राई को 2014-15 में डीटीएच व केबल ऑपरेटरों से जुड़ी 476 शिकायतें मिलीं

केबल टीवी और डीटीएच ऑपरेटर के खिलाफ शिकायतें पिछले तीन सालों से बढ़ रही हैं। राठौड़ ने बताया कि कि ट्राई को 2014-15 के दौरान 476 शिकायतें मिली हैं।

प्रसारण मंत्रालय ने नवंबर में तीन टीवी चैनल लाइसेंस दिए, सोनी को मिला एक

अक्टूबर में किसी भी टीवी चैनल को लाइसेंस न देने के बाद प्रसारण मंत्रालय ने नवंबर में तीन नए लाइसेंस जारी किए हैं। सोनी को पिक्स2 के लिए डाउनलिंकिंग लाइसेंस मिला है। नवदा क्रिएशंस का लाइसेंस रद्द कर दिया है और महुआ मीडिया के पांच व एसटीवी एंटरप्राइजेज़ के चार लाइसेंस बहाल हो गए हैं।

एसटीबी लगाने और डैस के चौथे चरण की स्थिति पर प्रसारण मंत्रालय ने दिया अपडेट

25 अक्टूबर तक के प्रसारण मंत्रालय के डेटा के अनुसार भारत में लगाए गए एसटीबी की कुल संख्या 9.24 करोड़ है। 31 अगस्त और 25 अक्टूबर के बीच 19.7 लाख एसटीबी चौथे चरण में लगाए गए हैं। 26 जुलाई तक के 1.78 करोड़ एसटीबी चौथे चरण के इलाकों में लगाए गए थे। आखिर, चौथे चरण में डिजिटलीकरण की क्या स्थिति है?

एचवीएल ने ₹46.60 करोड़ में बेचे आईएमसीएल के 1.35% शेयर, मूल्यांकन ₹3444 करोड़

हिंदुजा वेंचर्स ने आईएमसीएल के 10 लाख इक्विटी शेयर प्रति शेयर 466 रुपए के भाव से बेचे हैं। इस तरह आईएमसीएल का मूल्यांकन उसने 3444.06 करोड़ रुपए लगाया है। यह सौदा एक बाहरी पक्ष द्वारा किए गए स्वतंत्र मूल्यांकन पर आधारित है।

प्रसारण मंत्रालय ने अक्टूबर में नहीं जारी किया कोई टीवी लाइसेंस

देश में टीवी लाइसेंस दिए जाने की प्रक्रिया सुस्त पड़ती दिख रही है। सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने अक्टूबर महीने में कोई लाइसेंस ही नहीं जारी किया है। यह साल 2016 का इकलौता महीना है जिसमें कोई नया लाइसेंस नहीं जारी किया गया है।

सूचना व प्रसारण मंत्रालय ने एनडीटीवी इंडिया पर बैन लगाने का फैसला रोका

एनडीटीवी को लिखे पत्र में मंत्रालय ने कहा है कि वो उसके प्रतिवेदन की जांच कर रहा है और एनडीटीवी इंडिया को एक दिन के लिए ऑफ-एयर करने के आदेश पर अमल अगला फैसला आने तक रोक दिया गया है।

सरकार ने एनडीटीवी इंडिया पर पठानकोट कवरेज़ के लिए एक दिन का बैन लगाया

सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय की अंतर-मंत्रालयी समिति ने हिंदी न्यूज़ चैनल एनडीटीवी इंडिया पर एक दिन का बैन लगा दिया है। आरोप है कि चैनल ने पठानकोट के आतंकी हमले की कवरेज़ के दौरान देश की सुरक्षा से समझौता किया।

तीसरे चरण का समय बढ़ाने के आठ मामले खारिज, तीन हफ्ते में डैस पर अमल का निर्देश

दिल्ली हाई कोर्ट की एकल पीठ ने डैस के तीसरे चरण को लागू करने का समय बढ़ाने की मांग करते आठ मामलों को खारिज कर दिया है। पीठ ने तीन हफ्ते के भीतर याचिकाकर्ताओं को डैस पर अमल का निर्देश दिया है। वहीं, डैस अधिसूचना को चुनौती देने वाले अन्य मामलों की सुनवाई 23 नवंबर को होगी।

सितंबर में 11 लाइसेंस रद्द करने से टीवी चैनलों की संख्या घटकर 881 पर आई

सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय द्वारा 11 लाइसेंस रद्द कर दिए जाने के कारण भारत में ब्रॉडकास्ट करने की अनुमति मिले निजी सैटेलाइट टेलिविजन चैनलों की संख्या 30 सितंबर 2016 तक घटकर महीने भर पहले के 891 की तुलना में 881 रह गई है।

प्रसारण मंत्रालय ने एक टीवी चैनल को लाइसेंस दिया, ग्यारह का लाइसेंस रद्द किया

देश में टीवी लाइसेंस दिए जाने की प्रक्रिया एकदम ठहर-सी गई है। सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने सितंबर में केवल एक टेलिविजन चैनल को लाइसेंस दिया है। लेकिन मंत्रालय ने इसके साथ ही 11 टीवी चैनलों के डाउनलिंकिंग लाइसेंस रद्द कर दिए हैं।