लाइव पोस्ट

बालाजी टेलिफिल्म्स अपनी ओटीटी सेवा चौथी तिमाही के शुरू में लाने को तैयार

मुंबई: बालाजी टेलिफिल्म्स चालू वित्त वर्ष 2016-17 की चौथी तिमाही के शुरुआती हिस्से में अपनी ओवर-द-टॉप (ओटीटी) स्ट्रीमिंग सेवा, ऑल्ट डिजिटल को लॉन्च करने की तैयारी में जुट गई है।

लॉन्च के वक्त कंपनी की कंटेंट लाइब्रेरी में क्यूरेटेड कंटेंट समेत 200 से ज्यादा घंटों की सामग्री रहने का अनुमान है। वो प्रमुख अंतरराष्ट्रीय सेलिब्रिटी निम्रत कौर के साथ एक वेब सीरीज़ बना रही है। इस सीरीज़ का निर्देशन नागेश कुकुनूर ने किया है।

30 सितंबर 2016 तक कंपनी अपने डिजिटल बिजनेस में 21.6 करोड़ रुपए का निवेश कर चुकी है। मालूम हो कि ऑल्ट बालाजी को ऑल्ट डिजिटल मीडिया एंटरटेनमेंट के तहत चलाया जा रहा है।

टेलिविज़न पोस्ट पहले ही खबर दे चुका है कि ऑल्ट बालाजी का बिजनेस मॉडल सब्सक्रिप्शन-आधारित और प्रीमियम विज्ञापन-समर्थित कंटेंट के मिश्रण पर टिका होगा।

यह ओटीटी प्लेटफॉर्म शुरू में अंग्रेज़ी व हिन्दी कंटेंट की पेशकश करेगा। बाद में यह दर्शकों के व्यापक दायरे को कवर करने के लिए तमिल, बंगाली और तेलुगू में क्षेत्रीय कंटेंट लाएगा। वास्तव में बालाजी की संयुक्त उद्यम पार्टनर, छायाबनी बालाजी एंटरटेनमेंट पहले ही ऑल्ट के लिए 13 एपिसोड की एक बंगाली वेब सीरीज़ पर काम कर रही है।

यह डिजिटल प्लेटफॉर्म थ्रिलर, कॉमेडी, नाटकीय प्रेम कहानियां और बच्चों की प्रोग्रामिंग जैसे विभिन्न जॉनरों पर फोकस करेगा। यह टीवी पर नहीं देखे गए विषयों को भी लेकर आएगा।

अलग-अलग उम्र के लोगों के लिए इन-हाउस कंटेंट बनाने के अलावा वो ऑनलाइन वीडियो निर्माताओं समेत रचनात्मक संगठनों से सह-ब्रांडेड कंटेंट के लिए करार कर रहा है। यह कंटेंट ऑल्ट डिजिटल पर प्रसारित किया जाएगा। इसके एप्प का बीटा संस्करण तैयार है और उपभोक्ता इसका कंटेंट अपने डिवाइस पर डाउनलोड कर सकते हैं।

ऑल्ट बालाजी का कंटेंट 32 विभिन्न इंटरफेस के लिए बनाया जाएगा जिसमें मोबाइल फोन, कंप्यूटर, लैपटॉप, टैबलेट, स्मार्टफोन और गेम स्टेशन शामिल है। उपभोक्ता इंटरनेट तैयार टीवी सेट पर हाइ रेज़ोल्यूशन कंटेंट को प्रतिबिंबित करने के लिए एक एचडीएमआई केबल का उपयोग कर सकते हैं। कंटेंट नौ अलग-अलग स्पीड प्रोफाइल पर उपलब्ध होगा।

अपना खुद का प्लेटफॉर्म विकसित करने के अलावा, ऑल्ट बालाजी आधुनिक टेक्नोलॉजी और वीडियो डिस्ट्रीब्यूशन प्लेटफार्मों के साथ गठजोड़ व पार्टनरशिप के लिए बातचीत कर रहा है और यह काफी आगे तक पहुंच चुका है।

अपनी डिजिटल मीडिया इकाई को लॉन्च करने और उसका विस्तार करने के लिए, बालाजी ने हाल ही में अत्यंत कैपिटल इंडिया फंड-I, वांडरबिल्ट यूनिवर्सिटी, जीएच, जीएचआई एलटीपी लिमिटेड, जीएचआई एचएसपी व जीएचआई ईआरपी जैसे वैश्विक निवेशकों को प्रेफरेंस शेयर जारी करके 150 करोड़ रुपए जुटाए हैं। इसके लिए कंपनी ने अपने 107.2 लाख इक्विटी शेयर (इक्विटी शेयर पूंजी का 14.1 प्रतिशत हिस्सा) इन निवेशकों को आवंटित किए हैं।

ऑल्ट को चालू वित्त वर्ष में 30 सितंबर 2016 को समापत दूसरी तिमाही में 1.8 करोड़ रुपए का शुद्ध घाटा लगा है जो पिछले वित्त वर्ष में लगे 90 लाख रुपए के घाटे से दोगुना है। इस दौरान उसका परिचालन घाटा (ब्याज, टैक्स, मूल्यह्रास व अमोर्टाइजेशन से पूर्व घाटा) 90 लाख रुपए से बढ़कर 4.3 करोड़ रुपए हो गया है।