लाइव पोस्ट
चीन में शुरू हुआ दुनिया का सबसे ऊंचा पुल, 14.40 करोड़ डॉलर से बना
नोटबंदी को लेकर तृणमूल कांग्रेस का पीएम मोदी पर कटाक्ष- 'उम्मीद है कल बड़ी घोषणा करेंगे'
सीतापुर में यात्रियों से भरी बस नदी में पलटी, बचाव कार्य जारी
झारखंड में कोयला खदान के अंदर फंसे मजदूर, 10 शव निकाले गए
दिल्ली हाई कोर्ट ने शादियों के लिए बैंक खाते से 2.5 लाख रुपए निकालने के खिलाफ याचिका खारिज़ की
संसद के दोनों सदनों में नोटबंदी के खिलाफ विपक्षी दलों का हंगामा जारी
घोषित काले धन पर लगेगा 50% टैक्स, लोकसभा ने आयकर अधिनियम में संशोधन पास किया

कलर्स मराठी पर ‘कोण होईल मराठी करोड़पती-3’ सोमवार से, पुरस्कार राशि ₹3 करोड़

मुंबई: कलर्स मराठी रीब्रांडिंग के कारण एक साल का ब्रेक लेने के बाद वापस ‘कोण होईल मराठी करोड़पती’ (केएचएमसी) का तीसरी सीज़न लाने जा रहा है। इस बार पुरस्कार राशि बढ़ाकर 3 करोड़ रुपए कर दी गई है।

केएचएमसी का नया सीज़न 3 अक्टूबर से शुरू हो रहा है। इसके नए मेजबान स्वप्निल जोशी हैं। शो के पहले दो सीजन में मराठी अभिनेता सचिन खेडेकर ने इसकी मेजबानी की थी।

केएचएमसी रात में 9 बजे से 10.30 बजे तक हर सोमवार से बुधवार तक प्रसारित किया जाएगा।

Kon-Hoeel-Marathi-Crorepati

90 मिनट का यह शो कलर्स मराठी के दो मौजूदा शोज़, ‘तुझया वचुन करमेणा’ और ‘आवाज़’ की जगह लेगा। इस साल के शो की टैगलाइन ‘सुखाच्य शुभारम्भ’ है।

Anuj-Poddar-insideवायकॉम18 कलर्स मराठी के प्रमुख, अनुज पोद्दार का कहना है, “पहले दो सालों में, ‘कोण होईल मराठी करोड़पती’ ने ज़िंदगियां बदल दी थी – पुरस्कार राशि और मराठी भाषी दर्शकों के लिए ढाले फॉर्मैट, दोनों ही रूप में। इसलिए इस साल हमने नए मानक स्थापित करने का निर्णय लिया। हमने पुरस्कार राशि बढ़ा दी है। इसके अलावा, पहली बार फॉर्मैट में चैट लाइफलाइन को शामिल किया गया है। मराठी दर्शक आज संक्रामक ऊर्जा से भरे हुए हैं, सांस्कृतिक रूप से मजबूती के साथ समकालीन रुख को पकड़ रहे हैं और सफलता व खुशी के हर अवसर को गले लगाने के लिए बेताब हैं। इस साल केएचएमसी3 के साथ हम अपने सभी मराठी दर्शकों को उनकी नई पहचान हासिल करने का मंच उपलब्ध करा रहे हैं।”

इसे बिन सिनर्जी ने प्रोड्यूस किया है। इस सीज़न में म्यूज़िक थिरैपी और एक ज्योतिषी के अतिरिक्त आकर्षण जोड़े गए हैं।

कलर्स मराठी ने ‘लॉक किया जाए’ कहे जाने से मुक्ति पा ली है और वो इसकी जगह ‘घेउ का मानावर’ इस्तेमाल करेहगा। चैनल ने इस बार लाइफलाइन की अवधारणा को भी बदल दिया है।