लाइव पोस्ट
चीन में शुरू हुआ दुनिया का सबसे ऊंचा पुल, 14.40 करोड़ डॉलर से बना
नोटबंदी को लेकर तृणमूल कांग्रेस का पीएम मोदी पर कटाक्ष- 'उम्मीद है कल बड़ी घोषणा करेंगे'
सीतापुर में यात्रियों से भरी बस नदी में पलटी, बचाव कार्य जारी
झारखंड में कोयला खदान के अंदर फंसे मजदूर, 10 शव निकाले गए
दिल्ली हाई कोर्ट ने शादियों के लिए बैंक खाते से 2.5 लाख रुपए निकालने के खिलाफ याचिका खारिज़ की
संसद के दोनों सदनों में नोटबंदी के खिलाफ विपक्षी दलों का हंगामा जारी
घोषित काले धन पर लगेगा 50% टैक्स, लोकसभा ने आयकर अधिनियम में संशोधन पास किया

डिस्कवरी करेगा ओपरा विनफ्रे के शो ‘बिलीफ’ का प्रसारण, आगाज़ 1 फरवरी से

मुंबई: सूचना व मनोरंजन ब्रॉडकास्टर डिस्कवरी चैनल ऑन: ओपरा विनफ्रे नेटवर्क के शो ‘बिलीफ’ का प्रीमियर करेगा। इस टेलिविज़न सीरीज़ में दिखाया गया है कि व्यापक आस्थाओं वाले लोग गहरे अर्थों और अपने चारों ओर की दुनिया के साथ संबंधों को खोजते हैं।

ओपरा विनफ्रे इस शो की सूत्रधार हैं। ‘बिलीफ’ दर्शकों को देखने और आस्थावान की नज़रों से दुनिया की सबसे आकर्षक आध्यात्मिक यात्रा में शरीक होने के लिए आमंत्रित करता है।

डिस्कवरी चैनल पर सात भाग की सीरीज़ 1 फरवरी को प्रीमियर होगी और रात 9 बजे हर सोमवार को प्रसारित होगी।

इस सीरीज़ में दुनिया भर से विभिन्न धर्मों और आध्यात्मिक प्रथाओं के तहत मनुष्य के रूप में हम सबको एक साथ बांधने वाले अनुष्ठानों, कहानियों और रिश्तों की बातें उजागर होंगी। दुनिया के दूर-दराज हिस्सों और जहां कैमरा शायद ही कभी पहुंचा हो, वहां की यात्रा कर, शो विभिन्न धर्मों के मूल और जीवन के माइने की सच्चाई की खोज करेगा।

डिस्कवरी के ईवीपी और दक्षिण एशिया के जीएम राहुल जौहरी ने कहा, “हम भारत में अपने दर्शकों के लिए मील के पत्थर जैसी यह सीरीज़ बिलीफ पेश करते हुए खुश हैं। विभिन्न आस्थाओं की तलाश में बिलीफ दुनिया भर में मनुष्य की आध्यात्मिक यात्रा पर प्रकाश डालेगी।”

इस सीरीज़ में आध्यात्मिक यात्रा पर निकले लोगों की भारतीय कहानियां भी हैं। इनमें शामिल हैं शिकागो में रहने वाली एक युवा भारतीय अमेरिकी हिंदू महिला रेशमा ठक्कर जो भारत में गंगा नदी के तट पर आयोजित कुंभ मेले की यात्रा करती है और वहां दुनिया के सबसे बड़े आध्यात्मिक जमावड़े में लाखों लोगों के साथ शामिल हो जाती है। एक अन्य एपिसोड में मध्य भारत की एक युवा महिला अंजू की कहानी है जो एक जैन साध्वी बनने के लिए जीवन की सारी सुख-सुविधाएं छोड़कर और स्थायी रूप से अपने परिवार के साथ संबंधों को तोड़ कर रह रही हैं। यह सीरीज़, भारत और दुनिया के सबसे बड़े धर्मों में से एक हिंदू धर्म को छूकर अपनी यात्रा करती है। जीवन के सभी क्षेत्रों से हिंदु लोग रंगों का त्योहार – होली मनाने के लिए कैसे एकजुट होते हैं उसकी झलक भी शो में होगी।

हरेक एक घंटे के एपिसोड में आध्यात्मिक यात्रा पर निकले लोगों की भव्य से लेकर अंतरंग कहानियां हैं। ये यात्रा उन्हें पवित्र स्थानों पर ले जाती हैं, पवित्र गंगा नदी के किनारे आस्थावानों के दुनिया के इतिहास में सबसे बड़े शांतिपूर्ण जमावड़े से मिलाती हैं। आप पहाड़ पर रस्सी के बिना चढ़ने वाले एक पर्वतारोही से मिलते हैं जो मानता है कि बस उस क्षण में उपस्थित रहने से बड़ी कोई शक्ति नहीं। एक 21वीं सदी की औरत जो प्राचीन आनुष्ठानिक उपचार में चमत्कारिक इलाज खोजना चाहती है। सीरीज़ में रात की शांति में 50,000 साल पुराने इतिहास को समोए एक संस्कृति भविष्य की पीढ़ियों के साथ साझा करने के लिए तारों के बीच इनसाइट की खोज करने निकल पड़ती है। एक दुःखी मां की अदालत और जेल की यात्रा की कहानी है जो उसके बेटे के हत्यारे को माफ करने के लिए जूझ रही है। इन सारी कहानियां आपको सवाल पूछने पर मजबूर करेंगी: “आपकी क्या आस्था है?”