लाइव पोस्ट
चीन में शुरू हुआ दुनिया का सबसे ऊंचा पुल, 14.40 करोड़ डॉलर से बना
नोटबंदी को लेकर तृणमूल कांग्रेस का पीएम मोदी पर कटाक्ष- 'उम्मीद है कल बड़ी घोषणा करेंगे'
सीतापुर में यात्रियों से भरी बस नदी में पलटी, बचाव कार्य जारी
झारखंड में कोयला खदान के अंदर फंसे मजदूर, 10 शव निकाले गए
दिल्ली हाई कोर्ट ने शादियों के लिए बैंक खाते से 2.5 लाख रुपए निकालने के खिलाफ याचिका खारिज़ की
संसद के दोनों सदनों में नोटबंदी के खिलाफ विपक्षी दलों का हंगामा जारी
घोषित काले धन पर लगेगा 50% टैक्स, लोकसभा ने आयकर अधिनियम में संशोधन पास किया

बच्चों का फ्री-टू-एयर चैनल महा कार्टून टीवी पहली नवंबर से आ रहा है फ्रीडिश पर

मुंबई: भारत का पहला बच्चों का एफटीए चैनल महा कार्टून टीवी, सार्वजनिक ब्रॉडकास्टर प्रसार भारती के मुफ्त डीटीएच प्लेटफॉर्म फ्रीडिश पर 1 नवंबर को लॉन्च होगा।

महा कार्टून टीवी पहले से ही हिंदी भाषी बाज़ार (एचएसएम) में छोटे केबल टीवी नेटवर्क पर उपलब्ध है। चैनल का डिस्ट्रीब्यूशन अगले कुछ महीनों में बढ़ाया जाएगा।

Maha-Cartoon-TVचैनल को डीवी ग्रुप की कंपनियों के स्वामित्व वाली एक टेलिशॉपिंग कंपनी टेलिवन कंज्यूमर प्रोडक्ट द्वारा लॉन्च किया जा रहा है। टेलिवन एक टेलिशॉपिंग चैनल टेलिशॉपिंग और फ्री-टू-एयर हिंदी फिल्म चैनल महा मूवी का मालिक है और इन चैनलों को चलाता है। यह कंपनी का तीसरा चैनल होगा।

हिंद भाषा का यह चैनल 4 से 14 साल की उम्र के बच्चों पर लक्षित है। कंटेंट में स्थानीय एनिमेटेड शो के साथ ही अंतरराष्ट्रीय स्तर पर खरीदा गया कंटेंट शामिल होगा। कंपनी इन-हाउस प्रोडक्शन टीम के माध्यम से भी कंटेंट का निर्माण कर रही है।

चैनल के प्रमुख शो में ‘मूशक गुनगुन’, ‘बाल चाणक्य’, ‘पंचतंत्र स्टोरीज़’ और ‘सिको’ शामिल हैं। चैनल पर बच्चों के लिए फिल्मों के अलावा हिंदी में डब किया गया विदेशी कंटेंट भी होगा।

‘मूशक गुनगुन’ क्लासिक चूहे-बिल्ली की कहानी का भारतीय रूपांतरण है। ‘बाल चाणक्य’ एक तेज़ दिमाग भारतीय बच्चे की कहानी है जो बड़ी मज़बूती और आसानी से धैर्य के साथ विभिन्न बाधाओं को दूर करने की क्षमता रखता है। ‘पंचतंत्र स्टोरिज़’ पंचतंत्र की लघु कथाओं का संकलन है जिसमें भारत की सांस्कृतिक विरासत, वन्य जीवन और परिवेश दिखाया जाएगा। ‘सिको’ एक ज्ञान आधारित सीरीज़ है जो दर्शकों को दिलचस्प तथ्यों के बारे में जानकारी देगी।

कार्टून सीरीज़ के अलावा, चैनल इंटरैक्टिव और शिक्षाप्रद प्रोग्रामिंग का प्रसारण करेगा। इस दिशा में चैनल पर एक तकनीकी कमर्शियल शो ‘टेक्नो किड्स’ होगा जिसका उद्देश्य बच्चों की कल्पना का दोहन कर घरों में रोज़ाना इस्तेमाल की वस्तुओं से शानदार उपकरण बनाने का है।

यह एफटीए चैनल बच्चों के लिए प्रोग्रामिंग के संकलन और निर्माण के विभिन्न पहलुओं पर दो साल की मेहनत का परिणाम है।

कंपनी ने कहा कि उसे बच्चों के लिए फ्री-टू-एयर चैनल में एक मौका दिखा। लगभग सभी बच्चों के चैनल पे चैनल हैं और मुख्य रूप से शहरी आबादी को लक्षित हैं।

डीवी ग्रुप के चेयरमैन दर्शन सिंह ने कहा, “मैं इन दर्शकों को समझता हूं क्योंकि मैं खुद ग्रामीण क्षेत्र से आता हूं। मुझे लगता है कि यह चैनल ग्रामीण बच्चों को एक शानदार भेंट जैसा होगा। ग्रामीण बच्चों तक गुणवत्ता वाले बच्चों के कंटेंट की पहुंच नहीं है। चैनल का उद्देश्य बच्चों के लिए मनोरंजन और ज्ञान प्रदान करना है।”

डीवी ग्रुप के प्रबंध निदेशक और संस्थापक निदेशक विश्वजीत शर्मा ने कहा, “आज हमारे यहां 20 से अधिक बच्चों के पे चैनल हैं, लेकिन एक भी फ्री टू एयर बच्चों का चैनल नहीं है। बच्चे, ग्रामीण भारत में दर्शकों की संख्या का एक बड़ा हिस्सा हैं इसलिए फ्री टू एयर बच्चों के क्षेत्र में बड़ी संभावनाएं है।”