लाइव पोस्ट
चीन में शुरू हुआ दुनिया का सबसे ऊंचा पुल, 14.40 करोड़ डॉलर से बना
नोटबंदी को लेकर तृणमूल कांग्रेस का पीएम मोदी पर कटाक्ष- 'उम्मीद है कल बड़ी घोषणा करेंगे'
सीतापुर में यात्रियों से भरी बस नदी में पलटी, बचाव कार्य जारी
झारखंड में कोयला खदान के अंदर फंसे मजदूर, 10 शव निकाले गए
दिल्ली हाई कोर्ट ने शादियों के लिए बैंक खाते से 2.5 लाख रुपए निकालने के खिलाफ याचिका खारिज़ की
संसद के दोनों सदनों में नोटबंदी के खिलाफ विपक्षी दलों का हंगामा जारी
घोषित काले धन पर लगेगा 50% टैक्स, लोकसभा ने आयकर अधिनियम में संशोधन पास किया

टीवी18 के न्यूज़ चैनलों का एकछत्र ब्रांड न्यूज़18 रखा जाएगा: अविनाश कौल

मुंबई: टीवी18 ब्रॉडकास्ट के सभी न्यूज चैनलों के लिए न्यूज़18 को साझा ब्रांड के रूप में इस्तेमाल किया जाएगा। नेटवर्क18 में रणनीति, उत्पाद व गठबंधन के प्रेसिडेंट अविनाश कौल ने टेलिविज़न पोस्ट से बातचीत के दौरान यह जानकारी दी।

कंपनी ने इस रणनीति के तहत हाल ही में अपने अंग्रेजी न्यूज़ चैनल सीएनएन-आईबीएन को सीएनएन न्यूज़18 के रूप में रीब्रांड किया है। वो 9 नवंबर से अपने हिंदी न्यूज़ चैनल आईबीएन7 को भी न्यूज़18 इंडिया के रूप में रीब्रांड कर रही है। इन दोनों रीब्रांडिंग पहल में आईबीएन का नाम हटा दिया गया है।

Avinash-Kaulमई में विधानसभा चुनावों के दौरान कंपनी ने न्यूज़18 ब्रांड के अंतर्गत तमिलनाडु, केरल और असम / नॉर्थ ईस्ट के लिए तीन क्षेत्रीय चैनलों की शुरुआत की थी।

कंपनी भविष्य में अपने मराठी न्यूज़ चैनल आईबीएन लोकमत और ईटीवी ब्रांड के तहत चल रहे क्षेत्रीय न्यूज़ चैनलों की भी रीब्रांडिंग करेगी।

अविनाश कौल का कहना है, “हम समय बीतने के साथ न्यूज़18 को अपने समूचे न्यूज़ नेटवर्क का एकछत्र ब्रांड बना देना चाहते हैं।”

जहां टीवी18 के अधितकर न्यूज़ चैनल सफल हैं, वहीं आईबीएन7 अब तक पीछे चलता रहा है। कौल का फोकस चैनल को नए अवतार में हिंदी न्यूज़ का एक दुर्जेय ब्रांड बना देने पर है।

न्यूज़18 इंडिया का लक्ष्य अति प्रतिस्पर्धी हिन्दी न्यूज़ जॉनर के शीर्ष 5 चैनलों में शामिल होने का है। कौल ने ज़ोर देकर कहा, “आशा है कि इस वित्त वर्ष के अंत तक हम हिंदी न्यूज़ जॉनर के शीर्ष 5 चैनलों में पहुंच जाएंगे।”

उन्होंने आगे कहा कि आईबीएन7 पिछले कुछ महीनों में नई ब्रांडिंग को ध्यान में रखते हुए कंटेंट को एक बार में चढ़ाने के बजाय धीरे-धीरे प्राइमटाइम के दौरान नए शो लाता रहा है। चैनल का प्राइमटाइम शाम 6 बजे से शुरू हो जाता है और रात 11.30 बजे तक चलता है।

चैनल का प्राइमटाइम पिछले कुछ महीनों में नए शोज़ के लॉन्च के साथ मजबूत किया गया है। प्राइमटाइम के शोज़ इधर नए आए एंकरों – अमीष देवगन, किशोर अजवानी व प्रीति रघुनंदन द्वारा आगे बढ़ाए जा रहे हैं। इनके साथ चैनल में 2014 से अपनी दूसरी पारी शुरू करनेवाले सुमित अवस्थी भी डटे हुए हैं।

प्राइमटाइम की शुरुआत शाम 6 बजे स्पोर्ट्स बुलेटिन ‘सुपर गेम’ से होती है। प्राइमटाइम के दौरान चैनल के प्रमुख शो हैं – 7 बजे आनेवाला ‘आर पार’ जिसे अमीष देवगन पेश करते हैं, 8 बजे आनेवाला ‘हम तो पूछेंगे’ जिसके एंकर सुमित अवस्थी हैं और रात 9 बजे आनेवाला ‘सौ बात की एक बात’ जिसे किशोर अजवानी प्रस्तुत करते हैं।

चैनल से हाल ही जुड़ी प्रीति रघुनंदन रात 10 बजे आनेवाला नया शो ‘कच्चा चिट्ठा’ होस्ट करेंगी। रात 10.30 बजे ‘स्पेशल रिपोर्ट’ प्रस्तुत की जाएगी, जबकि 11 बजे आधे घंटे के शो ‘क्रिमिनल’ से प्राइमटाइम का अंत होगा।

कौल का कहना है, “हिंदी एक ऐसा क्षेत्र है जहां हम काफी समय से पीछे चल रहे हैं। यह सबसे ज्यादा होड़ वाला हलका है। हम चैनल से हाल में जुड़नेवाले अमीष देवगन, किशोर अजवानी व प्रीति रघुनंदन जैसे नए लोगों के साथ नए शोज़ पेश करते रहे हैं। नए शो हमारे लिए अच्छा काम कर रहे हैं। 43वें सप्ताह में हम शाम 7 बजे से रात 10 बजे के स्लॉट में बीएआरसी के मुताबिक हिंदी भाषी बाज़ार में 15 साल के ऊपर के दर्शकों के बीच दस लाख से ज्यादा आबादी वाले शहरों में पहले नंबर पर रहे हैं।”

एक बार प्राइमटाइम के जम जाने के बाद चैनल दर्शकों को खींचने के लिए सुबह और दोपहर के स्लॉट को दुरुस्त करेगा। दोपहर के बैंड में उसका एक प्रमुख शो ‘भाभी तेरा देवर दीवाना है’ जो हिंदी मनोरंजन चैनलों की दुनिया में हो रही हलचलों को पकड़ता है।

कौल कहते हैं, “पहले जो शो लॉन्च किए गए थे, वे चलते रहेंगे क्योंकि उन्हें नए ब्रांड को ध्यान में रखकर ही लाया गया था। एक बार प्राइमटाइम का मामला सुलट जाता है तो हम दोपहर और सुबह के बैंड को मजबूत बनाने में जुट जाएंगे।”

न्यूज़18 इंडिया का लक्ष्य 15 साल के ऊपर के पुरुष दर्शक हैं। चैनल का फोकस खांटी राष्ट्रीय समाचारों पर रहेगा क्योंकि नेटवर्क पास नितांत स्थानीय मुद्दों को कवर करने के लिए क्षेत्रीय न्यूज़ चैनल हैं। चैनल के लिए मुख्य बाज़ार उत्तर प्रदेश, दिल्ली, मध्य प्रदेश, राजस्थान और पंजाब हैं।

कंपनी पिछले एक साल में, खासकर बीएआरसी द्वारा ग्रामीण इलाकों का डेटा देने के बाद से, चैनल के डिस्ट्रीब्यूशन का दायरा बढ़ाने में लगी रही है।

अविनाश कौल ने बताया कि रीब्रांडिंग के बाद दर्शकों की नई संख्या आ जाएगी तो न्यूज़18 इंडिया अपनी विज्ञापन दरें भी बढ़ा देगा। चैनल की नई ब्रांडिंग को 10 नवंबर से शुरू हो रहे मल्टी-मीडिया मार्केटिंग अभियान के ज़रिए जमकर कर प्रमोट किया जाएगा।

यह भी पढ़ें: