लाइव पोस्ट

नए चैनल लॉन्च ने टीवी18 ब्रॉडकास्ट को दूसरी तिमाही में परिचालन घाटे में धकेला

मुंबई: टीवी18 ब्रॉडकास्ट को चालू वित्त वर्ष में 30 सितंबर 2016 को समाप्त दूसरी तिमाही में ब्याज व टैक्स से पहले 3 करोड़ रुपए का समेकित सेगमेंट घाटा लगा है, जबकि साल भर पहले की समान अवधि में उसे 24.7 करोड़ रुपए का लाभ हुआ था।

इसकी खास वजह नए चैनल लॉन्च और प्रिज़्म टीवी को वायकॉम18 में मिला देने पर किया गया एक बार का खर्च है।

नए लॉन्च से कंपनी के समेकित सेगमेंट नतीज़ों में परिचालन घाटे पर कुल मिलाकर 34.1 करोड़ रुपए का असर पड़ा है।

अगर नए लॉन्च और एक बार के खर्च को हटा दें तो दूसरी तिमाही में कंपनी का सेगमेंट लाभ 70.1 करोड़ रुपए निकलता है।

कंपनी ने नए चैनल एफवाईआई टीवी18 की व्यावसायिक लॉन्च 4 जुलाई 2016 को किया था। इसे जुलाई से सितंबर तक की तिमाही में 9.2 करोड़ रुपए का परिचालन घाटा हुआ है। यह लाइफस्टाइल प्रोग्रामिंग चैनल टीवी18 और ए+ई नेटवर्क्स के संयुक्त उद्यम एईटीएन18 के अंतर्गत चलाया जा रहा है।

TV18-Broadcast-Limited-Reported-Consolidated-Segment-Information-for-the-Quarter-and-Half-Year-ended-30th-September-2016-

समाचारों के क्षेत्र में कंपनी के तीन क्षेत्रीय न्यूज़ चैनलों – न्यूज़18 केरल, न्यूज़18 तमिलनाडु और न्यूज़18 असम / नार्थ ईस्ट का सम्मिलत परिचालन घाटा आलोच्य तिमाही में 22.8 करोड़ रुपए रहा है। इन चैनलों को चालू वित्त वर्ष 2016-17 की पहली तिमाही में लॉन्च किया गया था। दूसरी तिमाही में इन्होंने खुद को स्थिर किया है और अपनी पहुंच बढ़ाई है।

सितंबर तिमाही के दौरान क्षेत्रीय मनोरंजन चैनल चलानेवाली कंपनी प्रिज़्म टीवी प्रा. लिमिटेड का विलय वायकॉम18 में कर दिया गया। यह कदम 12 अगस्त को बॉम्बे हाई कोर्ट का अनुमोदन मिलने के बाद उठाया गया।

तिमाही के समेकित सेगमेंट नतीजों में विलय से संबंधित 7 करोड़ रुपए (स्टैम्प ड्यूटी समेत) का एक बार का खर्च शामिल है।

मनोरंजन के क्षेत्र में वायकॉम18 ने कन्नड़ बाज़ार में अपनी अग्रणी स्थिति और मजबूत करने के लिए दूसरा क्षेत्रीय मनोरंजन चैनल कलर्स सुपर जुलाई 2016 में लॉन्च किया। वहीं, उक्त तिमाही के दौरान एमटीवी इंडीज़ की जगह चौबीसों घंटे, सातों दिन का म्यूज़िक चैनल एमटीवी बीट्स ले आया गया।

वित्त वर्ष की पहली तिमाही में लॉन्च किए गए ओटीटी (ओवर-द-टॉप) प्लेटफॉर्म के अब तक एक करोड़ से ज्यादा ऐप्प डाउनलोड हो चुके हैं और मोबाइव व वेब पर उसके महीने के सक्रिय यूजर 1.5 करोड़ की संख्या पार कर चुके हैं। मई 2016 में लॉन्च किए गए हिंदी फिल्म चैनल रिश्ते सिनेप्लेक्स ने दूसरी तिमाही में अपनी स्थिति मजबूत कर ली।

दूसरी तिमाही में कंपनी के समेकित नतीजों में उसके संयुक्त उद्यमों के आनुपातिक हिस्सों को शामिल किया गया है।

समेकित आय

टीवी18 की समेकित आय (सेगमेंट की जानकारी के लिए संयुक्त उद्यमों के आनुपातिक हिस्से को मिलाकर) 30 सितंबर 2016 को समाप्त तिमाही में 653.5 करोड़ रुपए रही है, जबकि साल भर पहले की समान अवधि यह 608.5 करोड़ रुपए रही थी।

कंपनी का कहना है कि यह प्रिज़्म टीवी का स्तर बदलने के कारक के असर को शामिल करने के बाद 10 प्रतिशत की वृद्धि दिखाता है। प्रिज़्म टीवी को 31 जुलाई 2015 तक सब्सिडियरी के रूप में समेकित किया गया था और वो 1 अगस्त 2015 से कंपनी का संयुक्त उद्यम बन गई।

TV18-Broadcast-Limited-Reported-Consolidated-Financial-Performance-for-the-Quarter-and-Half-Year-ended-30th-September-2016

भारतीय एकाउंटिंग मानक (इंड एएस) के मुताबिक कंपनी की समेकित आय (इक्विटी पद्धति के तहत संयुक्त उद्यमों की एकाउंटिंग) 30 सितंबर 2016 को 239.8 करोड़ रुपए रही है, जबकि साल भर पहली की समान अवधि में यह 227.7 करोड़ रुपए रही थी। 1 अगस्त 2015 से प्रिज़्म टीवी के सब्सिडियरी से संयुक्त उद्यम बन जाने के असर को शामिल करने के बाद यह समान तुलना में 22 प्रतिशत की वृद्धि है।

नए एकाउंटिंग मानक इंड एएस के अंतर्गत परिचालन घाटा

कंपनी को नए एकाउंटिंग मानक इंड एएस के अंतर्गत समेकित आधार पर 30 सितंबर 2016 को समाप्त तिमाही में 10.8 करोड़ रुपए का परिचालन घाटा हुआ है, जबकि पिछले वित्त वर्ष में 30 सितंबर 2015 को समाप्त तिमाही में उसे 9.1 करोड़ रुपए का परिचालन लाभ हुआ था।

अगर नई पहल के असर को हटा दें कि कंपनी को आलोच्य तिमाही में 21.2 करोड़ रुपए का परिचालन लाभ हुआ है।

टीवी18 के चेयरमैन आदिल ज़ैनुलभाई का कहना है, “हम अपनी प्राथमिकताओं और लीनियर टीवी व डिजिटल व्यवसायों, दोनों की रफ्तार को लेकर उत्साहित हैं। हम आशावान है कि सूचना के साथ-साथ मनोरंजन में हमने अपने बुक़े को अपग्रेड व विस्तृत करने के लिए जो निवेश किया है, उससे हमारी आय बढ़ेगी और समय के साथ वो लाभप्रदता को आवेग देगा।”