लाइव पोस्ट

टीडीसैट को अगले महीने से चेयरमैन मिल जाने की उम्मीद, जून से खाली है पद

नई दिल्ली: दूरसंचार विवाद निपटान एवं अपीलीय ट्राइब्यूनल (टीडीसैट) को अगले महीने पूर्णकालिक चेयरमैन मिल जाने की संभावना है। यह पद जून मध्य से ही खाली पड़ा हुआ है।

जस्टिस आफताब आलम 16 जून को जब से रिटायर हुए हैं, तब से टीडीसैट ने केवल अंतरिम आदेश ही पारित कर रहा है।

एक आधिकारिक सूत्र ने समाचार एजेंसी पीटीआई को बताया, “टीडीसैट के चेयरमैन के अगले महीने से प्रभार संभाल लेने की उम्मीद है।”

दूरसंचार विभाग (डीओटी) में टेक्नोलॉज़ी संबंधी मामलों के सलाहकार रह चुके ए के भार्गव 19 अक्टूबर को टीडीसैट में शामिल हुए हैं।

असल में इधर टीडीसैट में संसाधनों की काफी किल्लत चल रही है। वहीं, ब्रॉडकास्टिंग व टेलिकॉम क्षेत्र में विवाद बढ़ते ही जा रहे हैं। यह मसला जस्टिस आफताब आलम भी पहले उठा चुके हैं।

ट्राइब्यूनल में अभी चेयरमैन के अलावा दो सदस्य काम करते हैं।

पीटीआई की खबर के मुताबिक, पिछले साल टीडीसैट में 707 मामले दायर किए गए थे। इनमें से 593 मामलों का वास्ता ब्रॉडकास्ट क्षेत्र से था।

खबर में जिक्र किया गया है कि इसी साल फरवरी में जस्टिस आलम ने सुझाव दिया था कि देश भर से छोटे-छोटे मसलों को सुलझाने के लिए जिस तरह से लोग ट्राइब्यूनल में आते हैं, उनकी सहूलियत के लिए एक मध्यस्थता केंद्र बनाया जाना चाहिए।