लाइव पोस्ट
चीन में शुरू हुआ दुनिया का सबसे ऊंचा पुल, 14.40 करोड़ डॉलर से बना
नोटबंदी को लेकर तृणमूल कांग्रेस का पीएम मोदी पर कटाक्ष- 'उम्मीद है कल बड़ी घोषणा करेंगे'
सीतापुर में यात्रियों से भरी बस नदी में पलटी, बचाव कार्य जारी
झारखंड में कोयला खदान के अंदर फंसे मजदूर, 10 शव निकाले गए
दिल्ली हाई कोर्ट ने शादियों के लिए बैंक खाते से 2.5 लाख रुपए निकालने के खिलाफ याचिका खारिज़ की
संसद के दोनों सदनों में नोटबंदी के खिलाफ विपक्षी दलों का हंगामा जारी
घोषित काले धन पर लगेगा 50% टैक्स, लोकसभा ने आयकर अधिनियम में संशोधन पास किया

आईपीएल पर दांव के बावजूद स्टार के परिचालन लाभ के लक्ष्य पर कोई बड़ा असर नहीं: जेम्स मर्डोक

मुंबई: ट्वेंटीफर्स्ट सेंचुरी फॉक्स के सीईओ जेम्स मर्डोक ने कहा है कि इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के टीवी प्रसारण अधिकारों के दाम भले ही काफी चढ़ गए हों, लेकिन उन्हें हासिल कर लेने पर भी कंपनी की भारतीय इकाई, स्टार इंडिया साल 2018 तक 50 करोड़ डॉलर और साल 2020 तक 1 अरब डॉलर के परिचालन लाभ (ब्याज़, टैक्स, मूल्यह्रास व अमोर्टाइजेशन) का लक्ष्य पूरा करने की राह पर है।

साल 2017 के संस्करण के बाद आईपीएल अधिकारों के नए चक्र का टीवी प्रसारण मूल्य आसमान छूने की संभावना है। स्टार इंडिया आईपीएल के टीवी अधिकारों के लिए सोनी पिक्चर्स नेटवर्क ऑफ इंडिया (एसपीएनआई) के साथ सीधे मुकाबला कर रहा है।

255px-James-Murdochआईपीएल के अधिकारों को खरीदने पर स्टार इंडिया के विकास लक्ष्यों पर पड़ने वाले प्रभाव बारे में, मीडिया विश्लेषकों द्वारा सवाल पूछे जाने पर मर्डोक ने कोई सीधा जवाब नहीं दिया।

आईपीएल के अधिकार देने की प्रक्रिया में देरी हुई है, इसे नोट करते हुए मर्डोक ने कहा कि भारत में उनका खेल बिज़नेस व्यापक बना है और भारतीय क्रिकेट अधिकारों के पूरक के रूप में प्रो कबड्डी और इंडियन सुपर लीग जैसी स्थानीय लीग उभर रही है।

मर्डोक ने कहा, “सबसे पहले तो आईपीएल के अधिकार कब बाज़ार में आएंगे, यह बहुत स्पष्ट नहीं है और यह सब अच्छी तरह से जानते हैं। इस प्रक्रिया में देरी हो चुकी है।”

अधिकार देने की प्रक्रिया में, लोढ़ा समिति और भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के बीच गतिरोध के कारण देरी हुई है। लोढ़ा समिति आईपीएल के अधिकारों के साथ आगे बढ़ने से पहले चाहती है कि बीसीसीआई उसके द्वारा दी गई सिफारिशी सुधारों को लागू करे।

मर्डोक ने आगे कहा, “लेकिन मैं कहता हूं कि इसे भारतीय कारोबार से जोड़कर देखिए। हम स्पष्ट रूप से अलग-अलग अधिकार पैकेज को देखते हैं। हमने वास्तव में बीसीसीआई के घरेलू क्रिकेट करार, साथ ही कबड्डी और इंडियन सुपर लीग के विकास के साथ खेल के संदर्भ में बिज़नेस का विस्तार किया है। तो वास्तव में बिज़नेस व्यापक हुआ है और नए अधिकार आते हैं तो हम हमेशा उन पर नज़र रखते हैं।”

स्टार इंडिया अपने लक्ष्य को पूरा करने की राह पर है। उन्होंने कहा, “इस बिंदु पर मैं मध्यम अवधि के लक्ष्य के स्टार के लाभ के परिणामों में ऐसा कुछ भी नहीं देख रहा हूं जो उसे रोकने वाला हो। इसलिए हम इस बारे में आश्वस्त हैं।”

बीसीसीआई ने इस बार आईपीएल के मीडिया अधिकारों को तीन हिस्सो में बांट दिया है। ये हैं – भारतीय उपमहाद्वीप के टीवी अधिकार, भारतीय उपमहाद्वीप के डिजिटल अधिकार और अंतरराष्ट्रीय मीडिया अधिकार। इसमें से भारतीय उपमहाद्वीप के टीवी अधिकार और अंतरराष्ट्रीय मीडिया अधिकार दस साल के लिए हैं, जबकि भारतीय उपमहाद्वीप के डिजिटल अधिकार केवल पांच साल के लिए हैं।

मर्डोक ने यह भी कहा कि स्टार इंडिया की विज्ञापन आय ने स्थिर मुद्रा के आधार पर साल-दर-साल की तर्ज पर दो अंकों की वृद्धि की है।

उन्होंने कहा कि हॉटस्टार ने जून से अक्टूबर के दौरान औसत देखने के समय को दोगुना करते हुए असाधारण वृद्धि दर्ज करना जारी रखा है।

उन्होंने कहा, “जून और अक्टूबर के बीच औसत देखने का समय इस प्लेटफॉर्म पर दोगुना हुआ है और मिनट भी फिलहाल दोगुने से ज़्यादा हो चुके हैं, जो मुख्यधारा के सभी प्रतियोगियों के संयुक्त समय से ज़्यादा है और इस साल भारत में लॉन्च किए गए नेटफ्लिक्स पर देखने के समय से 10 गुना ज़्यादा है।”